दिशा सन्धान-3, अक्टूबर-दिसम्बर 2015

दिशा सन्धान-3, अक्टूबर-दिसम्बर 2015

दिशा सन्‍धान-3 की पीडीएफ डाउनलोड करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें। अलग-अलग लेखों को यूनिकोड फॉर्मेट में आप नीचे दिये गये लिंक्स से पढ़ सकते हैं। 

Cover-Disha-Sandhan-3

सम्‍पादकीय

सम्पादकीय की एवज में

भारतीय कम्‍युनिस्‍ट आन्‍दोलन का इतिहास, समस्‍याएं व चुनौतियां

नक्सलबाड़ी और उत्तरवर्ती दशकः एक सिंहावलोकन (दूसरी किस्त) : दीपायन बोस

‘वामपन्थी आन्दोलन के समक्ष कुछ विचारणीय प्रश्न’ / सुखविन्‍दर

उन समझदारों के लिए सबक जो हमेशा हाशिये पर पड़े रहना चाहते हैं : अभिनव सिन्‍हा

भावुकतावादी क्रान्तिवाद बनाम मार्क्सवादी-लेनिनवादी अप्रोच एवं पद्धति : कात्‍यायनी

विश्‍व कम्‍युनिस्‍ट आन्‍दोलन का इतिहास, समस्‍याएं व चुनौतियां

सोवियत संघ में समाजवादी प्रयोगों के अनुभवः इतिहास और सिद्धान्त की समस्याएँ (तीसरी किस्त) : अभिनव सिन्‍हा

यूनानी त्रासदी के भरतवाक्य के लेखन की तैयारी : शिशिर

महान बहस के 50 वर्ष : राजकुमार

फासीवाद

मोदी सरकार के कार्यकाल का एक साल: विकास का विद्रूप प्रहसन : मीनाक्षी

साम्राज्‍यवाद

इस्लामिक स्टेट का उभार और मध्य-पूर्व में साम्राज्यवादी हस्तक्षेप का नया दौर : आनन्‍द

भूमण्डलीकरण के दौर में तीखी होती अन्तरसाम्राज्यवादी प्रतिस्पर्धा : आनन्‍द

कश्मीर में बाढ़,  भारत में अन्धराष्ट्रवाद  की आँधी और कश्मीरी जनता का बढ़ता अलगाव : पुरुषोत्‍तम

महान क्रान्तिकारियों की कलम से

उद्धरण : दिशा सन्धान-3, अक्टूबर-दिसम्बर 2015

आपकी बात

पाठकों के पत्र : दिशा सन्धान-3, अक्टूबर-दिसम्बर 2015

2 comments on “दिशा सन्धान-3, अक्टूबर-दिसम्बर 2015

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

2 × five =